Best Cricket Match Prediction Website

असली उम्र छुपाने वाले खिलाड़ियों पर BCCI लगाएगी इतने सालो का बैन

BCCI new age policy

बीसीसीआई (BCCI) ने डोमेस्टिक क्रिकेट में आ रही उम्र संबंधी शिकायतों को दूर करने के लिए नई पॉलिसी अपनाने का फैसला किया है. अक़सर शिकायते आती रहती है की कई खिलाड़ी पंजीकृत करते समय अपनी उम्र छुपाते है। पर अब ऐसा नहीं हो पायेगा, पकड़े जाने पर BCCI 2 साल के लिए बैन लगा देगी।

इस नई पॉलिसी के अनुसार जो खिलाड़ी अपने फर्जी दस्तावेज जमा कर यह कबूल करता है कि उसने अपनी जन्मतिथि से छेड़छाड़ की है तो उसे बैन नहीं किया जाएगा और सही उम्र बताने पर टूर्नामेंट्स में खेलने दिया जाएगा. खिलाड़ी को अपने दस्तखत किए हुए पत्र/ईमेल दाखिल करना होगा, जिसके साथ उसे 15 सितंबर तक संबंधित विभाग से सत्यापन कराते हुए असली जन्मतिथि के दस्तावेज जमा करने होंगे।

इसे भी पड़े: राजस्थान रॉयल्स के फील्डिंग कोच दिशांत याग्निक कोरोना पॉजिटिव पाए गए

नए नियम 2020-21 सीजन में बीसीसीआई के सभी आयुवर्ग के टूर्नामेंट्स में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों पर लागू होगी. बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने कहा,

हम सभी आयु वर्ग में समान मंच मुहैया कराने को लेकर प्रतिबद्ध है. बीसीसीआई उम्र संबंधी फजीर्वाड़े को रोकने के लिए काफी कदम उठा रही है और अब उसने आने वाले सीजन के लिए अधिक सख्त नियमों को लागू कर दिया है. जो लोग अपने आप अपनी गलती नहीं मानेंगे उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी.

इसे भी पड़े: छोटी T20 लीग अपने खिलाड़ियों को सही समय पर पैसे नहीं देती: FICA

अगर पंजीकृत खिलाड़ी सच्चाई नहीं बताता है तो और उसके दस्तावेज फर्जी पाए जाते हैं तो उसे 2 साल के लिए बैन कर दिया जाए और 2 साल पूरे हो जाने के बाद इस तरह के खिलाड़ियों को बीसीसीआई के आयु वर्ग के टूर्नामेंट में खेलने नहीं दिया जाएगा. साथ ही जो खिलाड़ी निवास संबंधी गड़बड़ी करता है, जिसमें सीनियर महिला और पुरुष भी शामिल हैं, उस पर 2 साल का बैन लगाया जाएगा. यहां खुद अपना अपराध कबूल करने की नीति लागू नहीं होगी.

(इनपुट-आईएएनएस)

Follow us

We will keep you updated