मैच प्रेडिक्शन: चेन्नई सुपर किंग्स बनाम सनराइज़र्स हैदराबाद 14th T20 आईपीएल मैच

Chennai Super Kings vs Sunrisers Hyderabad 14th T20 Match Prediction

आईपीएल का 14th मैच पॉइंट टेबल के सबसे निचले पायदान पर काबिज़ चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइज़र्स हैदराबाद के बीच दुबई में खेला जायेगा। दोनों ही टीम सही प्लेइंग इलेवन की समस्या से झूझ रही है। दोनों टीम अपने 3 मैच में से केवल एक में ही जीत हासिल कर पायी है।

चेन्नई सुपर किंग्स ने अपने पहले मैच में जीत हासिल की थी, जबकि सनराइज़र्स हैदराबाद ने अपने तीसरे मैच में जीत हासिल की थी।

चेन्नई सुपर किंग्स का ये आईपीएल अभी तक अच्छा नहीं गया है। सुरेश रैना और हरभजन सिंह के ना खेलने से उनकी टीम थोड़ी कमज़ोर नज़र आ रही है। धोनी की टीम की निर्भरता विदेशी खिलाड़ियों पर बढ़ गयी है।

पहला मैच जीतने के बाद बाकी के दो मैच वह आसानी से हार गए। पिछले दो मैच में फॉर्म में चल रहे अमबती रायुडू चोट के कारण खेल नहीं पाए, इस मैच में वह खेल सकते है।

अभी तक चेन्नई के ओपनर टीम को अच्छी शुरुआत देने में असफल हुए है। फाफ डु प्लेसिस और अम्बाती रायुडू को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाया है।

मुरली विजय और शेन वाट्सन फॉर्म में नहीं है, जबकि मिडिल आर्डर में कोई भी बल्लेबाज़ अच्छे रन की उम्मीद नहीं जगाता है। धोनी बैटिंग आर्डर में इतना नीचे आते है जिसकी वजह से उनको खेलने के लिए कम बॉल मिलती है। अगर टीम को सही दिशा में ले जाना है तो उन्हें बैटिंग क्रम में ऊपर की तरफ आना होगा।

बैटिंग के अलावा बॉलिंग भी चेन्नई खेमे की एक बड़ी समस्या है, जिसका निदान जल्दी ही करना होगा। दीपक चहार और सैम करन को छोड़ दिया जाये तो बाकि सभी बॉलर जमकर रन लुटा रहे है।

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ तो लुंगनी नगीदी ने एक ओवर में ३० रन तक खर्च कर दिए थे। यही ओवर मैच में जीत हार का कारण बनी थी। स्पिन डिपार्टमेंट में रविंद्र जडेजा और पियूष चावला काफी ज़्यादा रन दे रहे है। दोनों का प्रदर्शन अभी तक अच्छा नहीं रहा है।

कुल मिला कर चेन्नई सुपर किंग्स की टीम में अभी सुधर की बहुत गुँजाइश है।

सनराइज़र्स हैदराबाद की बात की जाए तो उनकी टीम की निर्भरता उनके ऊपरी क्रम के बल्लेबाज़ पर है। सभी आईपीएल टीम में सबसे कमज़ोर मिडिल आर्डर इसी टीम का है। जिसकी वजह से ऊपरी क्रम के बल्लेबाज़ भी दबाव की स्थिति महसूस करते है।

डेविड वार्नर और जॉनी बेयरस्टो अभी तक टीम को अच्छी शुरुआत देने में सफल रहे है, परन्तु दबाव के कारण रन बनाने की गति काफी धीमी है। मिडिल आर्डर में मनीष पांडेय के अलावा सभी बैट्समैन ने अभी तक निराश किया है। पिछले मैच केन विल्लियम्सन के आने से मिडिल आर्डर में स्थिरता दिखाई दी थी।

अपने पहले मैच में 26 बॉल पर 41 रन की पारी खेल कर, विल्लियम्सन ने टीम की जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। सनराइज़र्स हैदराबाद की सबसे मजबूत कड़ी है उनकी फील्डिंग और बॉलिंग। जो अभी तक हमे देखने को मिली है।

फील्डिंग और बॉलिंग से कप्तान डेविड वार्नर निराश नहीं होंगे। पिछले मैच में रशीद खान की शानदार फिरकी गेंदबाज़ी से हैदराबाद ने अपनी पहली जीत हासिल की थी। इस मैच में रशीद खान ने 4 ओवर में 14 रन खर्च कर के 3 विकेट लिए थे, उन्हें मैन ऑफ़ दा मैच का इनाम भी मिला था।

दुबई का मौसम काफी गर्मी और उमस वाला है। ये मैच इस्तेमाल की हुई पिच पर खेला जायेगा। पिच इस्तेमाल होने के बावजूद बैटिंग के अनुकूल है।

इस आईपीएल में अभी तक ओस का फायदा पीछा करने वाली टीम नहीं उठा पाई है। अभी तक हुए लगभग सभी मुक़ाबलों में टॉस जीतने वाली टीम हारी है। तो टॉस इतना ज़्यादा महत्वपूर्ण नहीं है।

चेन्नई सुपर किंग्स के जीतने के चांस सनराइज़र्स हैदराबाद की तुलना में ज़्यादा है, इसका कारण चेन्नई का तीनो डिपार्टमेंट में हैदराबाद से बेहतर होना है। चेन्नई सुपर किंग्स का मिडिल आर्डर काफी बेहतर है। चेन्नई के ये मैच जीतने के चांस 70 परसेंट से ज़्यादा है।

Follow us

We will keep you updated